February 26, 2021

New Year 2021 Celebration : 2020 को विदाई देने और 2021 के स्वागत के लिए पर्यटक स्थलों पर पहुंचे सैलानी


उत्तराखंड के पर्यटक स्थलों पर पहुंच चुके हैं सैलानी
– फोटो : amar ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

साल 2020 को अलविदा कहने और नये साल के स्वागत के लिए सैलानी उत्तराखंड के पर्यटक स्थलों पर पहुंच चुके हैं। बुधवार देर शाम तक नैनीताल में सैलानियों की खासी भीड़ पहुंच चुकी थी।

New Year 2021: औली- नैनीताल में पर्यटकों से पैक हुए होटल, बर्फबारी का इंतजार, मसूरी में 20 फीसदी बुकिंग कैंसिल

सैलानियों की आवक बढ़ने के बाद माल रोड में पर्यटक वाहनों की आवाजाही बढ़ गई और शाम छह बजे के करीब लोअर माल रोड में वाहन रेंगने लगे। देर शाम तक पार्किंग स्थल भी पैक होने लगे थे।

नये साल का जश्न मनाने पहुंचे पर्यटकों ने नैनीझील में नौका विहार का आनंद लिया और नगर समेत आसपास के पर्यटक स्थलों में मौजमस्ती की। नैनीताल के केव गार्डन में पर्यटकों ने प्राकृतिक गुफाओं के दीदार किए।

चिड़ियाघर में पर्यटक पहुंचे। इसके अलावा वाटरफॉल, हिमालयन बॉटनिकल गार्डन में पर्यटकों ने प्रकृति को करीब से देखा। आरओ अजय रावत ने बताया कि आज भी चिड़ियाघर पर्यटकों के लिए खुला रहेगा।

आज चप्पे-चप्पे पर तैनात पुलिस और सीपीयू

31 दिसंबर को हजारों की संख्या में पर्यटकों के नैनीताल पहुंचने की उम्मीद है। पर्यटकों की सुरक्षा और सुविधा को देखते हुए 63 अलग-अलग स्थानों पर पुलिस तैनाती है। वहीं, अति संवेदनशील क्षेत्रों में एसआई मौजूद रहेंगे। 

31 दिसंबर का रूट प्लान

नगर में 31 दिसंबर के लिए रूट प्लान तय किया जा चुका है। एसओ विजय मेहता ने बताया कि नैनीताल में सभी पार्किंग फुल होने के बाद नगर के तीनों एंट्री प्वाइंट पर वाहनों को रोक लिया जाएगा।

साथ ही दो बजे बाद अपर मालरोड में यातायात बंद कर दिया जाएगा। लोअर माल रोड में वाहनों का आवागमन वन वे जारी रहेगा। उन्होंने बताया कि ऐसे में मल्लीताल की ओर से आने वाले वाहन वाया राजभवन से होकर तल्लीताल की ओर आएंगे।

नए साल के जश्न के नाम पर हुड़दंग करने वालों पर कार्रवाई के लिए प्रशासन ने कमर कस ली है। इसे लेकर एसडीएम की ओर से होटल मालिकों को दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। किसी भी होटल-रिजॉर्ट में बार लाइसेंस लिए बिना शराब पिलाने पर रोक रहेगी और शराब पीकर यदि कोई पर्यटक सड़क पर आया तो उसकी जिम्मेदारी होटल प्रबंधन की होगी। गुरुवार को रामनगर में करीब पांच हजार पर्यटकों के उमड़ने की उम्मीद है।

नैनीताल और मसूरी में कोरोना जांच की सख्ती की देखते हुए अधिकतर पर्यटक 31 दिसंबर और नया साल मनाने के लिए रामनगर का रुख कर रहे हैं। बुधवार से पर्यटकों के पहुंचने से होटल और रिजॉर्ट संचालक उत्साहित हैं। पर्यटकों के लिए पहाड़ी व्यंजनों के साथ तमाम तरह की डिशें रखी गई हैं।

वहीं, ढिकुली और आसपास के 30 होटलों ने मंगलवार तक अस्थायी बार लाइसेंस लिया है। एसडीएम विजयनाथ शुक्ल और सीओ पंकज गैरोला ने बताया कि रात के समय पुलिस-प्रशासन गश्त करेगा।

होटलों, रिजॉर्ट में दस बजे के बाद डीजे बजता हुआ मिला तो जुर्माना किया जाएगा। साथ ही आबकारी निरीक्षक को भी होटलों में चेकिंग कराने के निर्देश दिए हैं। कोविड के नोडल अधिकारी डॉ. प्रशांत कौशिक ने बताया कि होटलों में आने वालों पर्यटकों की थर्मल स्क्रीनिंग करने के निर्देश दिए हैं।

80 प्रतिशत होटलों में बुकिंग

रामनगर के 80 प्रतिशत होटलों में पर्यटकों ने एडवांस बुकिंग कराई है, जबकि शेष होटलों में कमरे खाली चल रहे हैं। पर्यटकों की आमद को देखते हुए अंदाजा लगाया जा रहा है कि अन्य होटलों को भी बुकिंग मिल जाएगी। होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष हरिमान ने बताया कि 80 प्रतिशत होटलों में बुकिंग हुई है।

नए साल पर कम रहेगी सैलानियों की चहलकदमी

इस बार नए साल पर पहले की अपेक्षा सैलानियों की चहलपहल कम देखने को मिलेगी। भीमताल, सातताल, नौकुचियाताल, भवाली, मुक्तेश्वर और रामगढ़ के होटलों में इस बार नए साल से पहले अब तक केवल 60 प्रतिशत ही बुकिंग हुई है।

हालांकि होटल व्यवसायियों को 31 दिसंबर को सैलानियों के बढ़ने की उम्मीद जरूर है। पाइन क्रिस्ट होटल के जीएम विजय कुमार झा ने बताया कि अब तक करीब 60 प्रतिशत बुकिंग ही हुई है। भवाली होटल एसोसिएशन अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद कपिल ने बताया कि उनके यहां तो केवल 50 प्रतिशत बुकिंग ही हुई है। मुक्तेश्वर होटल एसोसिएशन अध्यक्ष प्रदीप दरमवाल ने गुरुवार को सैलानियों के बढ़ने की उम्मीद जताई है। 

मां पूर्णागिरि धाम में 31 दिसंबर और नए साल पर लगने वाले मेले के आयोजन की अनुमति के बाद प्रशासन और मंदिर समिति ने मेले की तैयारी पूरी कर ली है। धाम को भव्य तरीके से सजाया गया है।

कोरोना से बचाव के नियमों का पालन करते हुए मां पूर्णागिरि के दर्शन की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। बुधवार को एसडीएम हिमांशु कफल्टिया ने पूर्णागिरि क्षेत्र में जाकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने मंदिर समिति को उचित दिशा-निर्देश दिए। 

मां पूर्णागिरि धाम में हर साल जाते साल की विदाई और नए साल के स्वागत के लिए श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ती है, लेकिन इस बार कोरोना महामारी के चलते श्रद्धालुओं के कम आने की उम्मीद है। प्रशासन ने कोरोना से बचाव के नियमों का पालन सुनिश्चित करने की शर्त पर मेले के आयोजन की अनुमति दी है।

बाहरी राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं को जहां देहरादून स्मार्ट सिटी वेबसाइट में पंजीकरण कराना होगा। मंदिर समिति को श्रद्धालुओं को सैनिटाइज कर और सुरक्षित दूरी के पालन के साथ दर्शन कराने की व्यवस्था करने को कहा गया है।

बुधवार की शाम एसडीएम कफल्टिया ने पूर्णागिरि जाकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने दुकानों और धर्मशालाओं में भीड़ एकत्र न होने देने और हर श्रद्धालु को सैनिटाइज कर ही दर्शन के लिए भेजने की हिदायत दी है। 

31 दिसंबर के लिए पिथौरागढ़ जिले के मुनस्यारी में 70 प्रतिशत और चौकोड़ी में 50 प्रतिशत होटल बुक हुए हैं। सुबह कड़ाके की ठंड के बाद दिन में अच्छी धूप खिलने से पर्यटकों के चेहरे खिले हैं।

हिमालय के दर्शन करते हुए पर्यटकों ने नए साल के स्वागत के लिए जश्न मनाने की तैयार शुरू कर दी है। पिछले वर्ष की तुलना में इस बार कोविड-19 के कारण पर्यटकों की संख्या में कमी दर्ज की गई है। 

हिमनगरी मुनस्यारी में कोलकाता, दिल्ली, बंगलूरू, हरियाणा, पंजाब, उत्तरप्रदेश से पर्यटक पहुंचे हैं। इसमें सबसे अधिक संख्या में बंगाली पर्यटक हैं। इसके अलावा बंगलूरू से भी काफी पर्यटक पहुंचे हैं। बागेश्वर जिले में कौसानी में इस बार कोविड-19 के कारण पर्यटकों की संख्या में कमी दर्ज की गई है। 

मुनस्यारी के सभी 31 होटल, लॉज, पर्यटक आवास गृह और होम स्टे में 70 प्रतिशत बुकिंग हो चुकी है। इधर, बेड़ीनाग के चौकोड़ी में भी देश के विभिन्न क्षेत्रों से पर्यटक पहुंचे हैं। केएमवीएन के पर्यटक आवास गृह बेड़ीनाग में कोविड-19 के कारण आइसोलेशन सेंटर बनाया गया है। 

बता दें कि बेड़ीनाग टीआरएच 31 दिसंबर से पूर्व पर्यटकों से फुल हो जाता है, लेकिन इस बार टीआरएच में पर्यटकों के लिए कोई व्यवस्था नहीं है, जिस कारण पर्यटक होटलों में रह रहे हैं। इस बार पिछले वर्ष की तुलना में पर्यटकों की संख्या में काफी कमी दर्ज की गई है।    

होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष पूरन पांडे ने बताया कि 31 दिसंबर को लेकर सभी होटलों में कोविड- 19 की गाइड लाइन का पालन किया जा रहा। पर्यटक मुनस्यारी के नंदा देवी मंदिर, स्थानीय पत्थरों से बना दरकोट मंदिर, इको पार्क, ट्राइबल हेरिटेज म्यूजियम, मेसर कुंड, थामरी कुंड, हॉट वाटर स्प्रिंग मदकोट, सेरा तक पर्यटक पहुंच रहे हैं।

उन्होंने बताया  कि हुड़दंगियों से निपटने के लिए पुलिस से सहयोग मांगा गया है। प्रभारी थानाध्यक्ष मुनस्यारी अरुण राणा ने कहा है कि पर्यटकों को किसी प्रकार की दिक्कत न हो इसके लिए आज से ही गश्त बढ़ाई गई है।  
 

साल 2020 को अलविदा कहने और नये साल के स्वागत के लिए सैलानी उत्तराखंड के पर्यटक स्थलों पर पहुंच चुके हैं। बुधवार देर शाम तक नैनीताल में सैलानियों की खासी भीड़ पहुंच चुकी थी।

New Year 2021: औली- नैनीताल में पर्यटकों से पैक हुए होटल, बर्फबारी का इंतजार, मसूरी में 20 फीसदी बुकिंग कैंसिल

सैलानियों की आवक बढ़ने के बाद माल रोड में पर्यटक वाहनों की आवाजाही बढ़ गई और शाम छह बजे के करीब लोअर माल रोड में वाहन रेंगने लगे। देर शाम तक पार्किंग स्थल भी पैक होने लगे थे।

नये साल का जश्न मनाने पहुंचे पर्यटकों ने नैनीझील में नौका विहार का आनंद लिया और नगर समेत आसपास के पर्यटक स्थलों में मौजमस्ती की। नैनीताल के केव गार्डन में पर्यटकों ने प्राकृतिक गुफाओं के दीदार किए।

चिड़ियाघर में पर्यटक पहुंचे। इसके अलावा वाटरफॉल, हिमालयन बॉटनिकल गार्डन में पर्यटकों ने प्रकृति को करीब से देखा। आरओ अजय रावत ने बताया कि आज भी चिड़ियाघर पर्यटकों के लिए खुला रहेगा।

आज चप्पे-चप्पे पर तैनात पुलिस और सीपीयू

31 दिसंबर को हजारों की संख्या में पर्यटकों के नैनीताल पहुंचने की उम्मीद है। पर्यटकों की सुरक्षा और सुविधा को देखते हुए 63 अलग-अलग स्थानों पर पुलिस तैनाती है। वहीं, अति संवेदनशील क्षेत्रों में एसआई मौजूद रहेंगे। 

31 दिसंबर का रूट प्लान

नगर में 31 दिसंबर के लिए रूट प्लान तय किया जा चुका है। एसओ विजय मेहता ने बताया कि नैनीताल में सभी पार्किंग फुल होने के बाद नगर के तीनों एंट्री प्वाइंट पर वाहनों को रोक लिया जाएगा।

साथ ही दो बजे बाद अपर मालरोड में यातायात बंद कर दिया जाएगा। लोअर माल रोड में वाहनों का आवागमन वन वे जारी रहेगा। उन्होंने बताया कि ऐसे में मल्लीताल की ओर से आने वाले वाहन वाया राजभवन से होकर तल्लीताल की ओर आएंगे।


आगे पढ़ें

आज पर्यटकों से पैक रहेगा रामनगर



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed