February 26, 2021

उत्तराखंड: फरवरी में हो रहा मार्च के मौसम का अहसास, अब बुधवार को पहाड़ों पर हल्की बर्फबारी के आसार


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

इस बार उत्तराखंड में मौसम में परिवर्तन के चलते फरवरी में ही मार्च के तापमान का अहसास हो रहा है। पिछले छह दिनों से न्यूनतम व अधिकतम तापमान में लगातार इजाफा दर्ज किया जा रहा है। आमतौर पर इतना तापमान मार्च में रहता है। तापमान में उछाल से ठंड कम होने लगी है। 

मंगलवार को न्यूनतम तापमान में एक बार फिर बढ़ोतरी दर्ज की गई। अधिकतम तापमान 27.8 व न्यूनतम 13.4 डिग्री सेल्सियस रहा। जबकि, 22 फरवरी को अधिकतम 27.9 व न्यूनतम तापमान 12.5 डिग्री था। तापमान बढ़ने से गर्मी महसूस हो रही है।

ठंड का असर भी कम देखने को मिल रहा है। मौसम केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने कहा कि बुधवार को भी तापमान में इजाफा हो सकता है। न्यूनतम 13.4 व अधिकतम तापमान 27.8 डिग्री सेल्सियस तक रहने का अनुमान है। 

बुधवार को पहाड़ों पर हल्की बर्फबारी के आसार
तीन पर्वतीय जिलों में बुधवार को मौसम के करवट लेने के आसार हैं। मौसम केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि उत्तरकाशी, चमोली व पिथौरागढ़ जिले के ऊंचाई वाले इलाकों में हल्की बर्फबारी और निचले इलाकों में हल्की बारिश होने का अनुमान है। बताया कि देहरादून में कहीं-कहीं हल्के बादल छाए रह सकते हैं।

तिथि            अधिकतम    न्यूनतम तापमान (डिग्री सेल्सियस) 
23 फरवरी      27.8               13.4
22 फरवरी      27.9               12.5
21 फरवरी      26.6               11.8
20 फरवरी      26.6               10.6
19 फरवरी      26.6               10.1
18 फरवरी     26.2                10  

बुधवार को मौसम खराब होने की पूर्व सूचना पर चमोली जिला प्रशासन अलर्ट हो गया है। यहां ऋषिगंगा पर बनी झील पर लगातार नजर रखी जा रही है। आईटीबीपी, एनडीआरएफ, नेवी और वैज्ञानिकों की टीम यहां की गतिविधियों पर नजर बनाए हुए है। 

ऋषिगंगा में आई आपदा के बाद से लापता लोगों की तलाश अभी भी जारी है, लेकिन ऋषिगंगा पर बनी झील और मौसम खराब की सूचना को देखते हुए प्रशासन अलर्ट हो गया है। झील पर लगातार नजर रखी जा रही है। वहीं रैणी गांव में अलार्म सिस्टम लगाया गया है, जो पानी का स्तर बढ़ने पर बजना शुरू हो जाएगा।

जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने बताया कि झील में एक टीम कार्य कर रही है। यह टीम वहीं पर कैंप किए हुए है। वहां की सूचना एकत्रित करने के लिए एंटीना भी लगाया गया है, जिससे वहां की हर अपडेट मिलती रहे। साथ ही मौसम को देखते हुए सभी को अलर्ट कर दिया गया है।

सार

  • पिछले छह दिनों से लगातार बढ़ रहा तापमान, ठंड में हो रही कमी

विस्तार

इस बार उत्तराखंड में मौसम में परिवर्तन के चलते फरवरी में ही मार्च के तापमान का अहसास हो रहा है। पिछले छह दिनों से न्यूनतम व अधिकतम तापमान में लगातार इजाफा दर्ज किया जा रहा है। आमतौर पर इतना तापमान मार्च में रहता है। तापमान में उछाल से ठंड कम होने लगी है। 

मंगलवार को न्यूनतम तापमान में एक बार फिर बढ़ोतरी दर्ज की गई। अधिकतम तापमान 27.8 व न्यूनतम 13.4 डिग्री सेल्सियस रहा। जबकि, 22 फरवरी को अधिकतम 27.9 व न्यूनतम तापमान 12.5 डिग्री था। तापमान बढ़ने से गर्मी महसूस हो रही है।

ठंड का असर भी कम देखने को मिल रहा है। मौसम केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने कहा कि बुधवार को भी तापमान में इजाफा हो सकता है। न्यूनतम 13.4 व अधिकतम तापमान 27.8 डिग्री सेल्सियस तक रहने का अनुमान है। 

बुधवार को पहाड़ों पर हल्की बर्फबारी के आसार

तीन पर्वतीय जिलों में बुधवार को मौसम के करवट लेने के आसार हैं। मौसम केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि उत्तरकाशी, चमोली व पिथौरागढ़ जिले के ऊंचाई वाले इलाकों में हल्की बर्फबारी और निचले इलाकों में हल्की बारिश होने का अनुमान है। बताया कि देहरादून में कहीं-कहीं हल्के बादल छाए रह सकते हैं।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed