February 24, 2021

सोरांव से अलग होकर फाफामऊ बनेगा नया थाना, आएंगे 166 गांव, शासन से मिली मंजूरी


prayagraj news : प्रयागराज पुलिस।
– फोटो : prayagraj

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

गंगापार क्षेत्र में बनने जा रहे नए फाफामऊ थाने के अंतर्गत कुल 166 गांव आएंगे। जिनमें रहने वाले करीब दो लाख की आबादी इसके दायरे में होगी। शनिवार को थाने की स्थापना के संबंध में राज्यपाल की मंजूरी संबंधी पत्र पुलिस अफसरों के पास पहुंच गया। जिसके बाद स्थापना का कार्य शुरू कर दिया गया। 

फिलहाल पूर्व में भेजे गए प्रस्ताव के मुताबिक, फाफामउऊ चौकी के पुराने भवन से ही थाने के कार्य संपादित किए जाएंगे। बाद में स्थान की उपलब्धता पर नए भवन का निर्माण कराया जाएगा। अफसरों ने बताया कि नए थाने के अंतर्गत कुल 166 गांव आएंगे। इनमें सोरांव थाना क्षेत्र के 148 व फाफामऊ कस्बा अंतर्गत स्थित 18 गांव शामिल हैं। इन गांवों में रहने वाले कुल 1.73 लाख लोग थाने के दायरे में होंगे। क्षेत्रफल की बात करें तो फाफामऊ थाने का कुल क्षेत्र 184 वर्ग किमी होगा। 

जिले में 40 हो जाएगी थानों की कुल संख्या

फाफामऊ थाना बनने के बाद जिले में थानों की कुल संख्या 40 हो जाएगी। यह गंगापार क्षेत्र का 13वां थाना होगा। फिलहाल शहर में 15, गंगापार में 12 व यमुनापार में 12 थाने स्थित हैं। 

इंस्पेक्टर रैंक का होगा थाना, यह होगा संख्याबल

अफसरों ने बताया कि फिलहाल जो प्रस्तावित योजना के मुताबिक थाने का प्रभारी इंस्पेक्टर रैंक का अफसर होगा। जहां दो एसआई, नौ हेड कांस्टेबल, 15 कांस्टेबल, तीन कंप्यूटर ऑपरेटर, तीन फॉलोअर तैनात किए जाएंगे। 
 

  • फाफामऊ थाने की स्थापना के क्रम में राज्यपाल की मंजूरी संबंध पत्र डीजीपी मुख्यालय से प्राप्त हो गया है। जिसके बाद थाना स्थापित किए जाने के संबंध में कवायद शुरू कर दी गई है। – प्रेमप्रकाश, एडीजी प्रयागराज जोन

सार

  • अभी तक फाफामऊ में है पुलिस चौकी
  • फाफामऊ थाना बनने के बाद प्रयागराज जिले में कुल थानों की संख्या हो जाएगी 40

विस्तार

गंगापार क्षेत्र में बनने जा रहे नए फाफामऊ थाने के अंतर्गत कुल 166 गांव आएंगे। जिनमें रहने वाले करीब दो लाख की आबादी इसके दायरे में होगी। शनिवार को थाने की स्थापना के संबंध में राज्यपाल की मंजूरी संबंधी पत्र पुलिस अफसरों के पास पहुंच गया। जिसके बाद स्थापना का कार्य शुरू कर दिया गया। 

फिलहाल पूर्व में भेजे गए प्रस्ताव के मुताबिक, फाफामउऊ चौकी के पुराने भवन से ही थाने के कार्य संपादित किए जाएंगे। बाद में स्थान की उपलब्धता पर नए भवन का निर्माण कराया जाएगा। अफसरों ने बताया कि नए थाने के अंतर्गत कुल 166 गांव आएंगे। इनमें सोरांव थाना क्षेत्र के 148 व फाफामऊ कस्बा अंतर्गत स्थित 18 गांव शामिल हैं। इन गांवों में रहने वाले कुल 1.73 लाख लोग थाने के दायरे में होंगे। क्षेत्रफल की बात करें तो फाफामऊ थाने का कुल क्षेत्र 184 वर्ग किमी होगा। 

                
                
                                
                                
                                
                                
                                

                
                
                                
                                
                                
                                
                                जिले में 40 हो जाएगी थानों की कुल संख्या

फाफामऊ थाना बनने के बाद जिले में थानों की कुल संख्या 40 हो जाएगी। यह गंगापार क्षेत्र का 13वां थाना होगा। फिलहाल शहर में 15, गंगापार में 12 व यमुनापार में 12 थाने स्थित हैं। 

                
                
                                
                                
                                
                                
                                

                
                
                                
                                
                                
                                
                                इंस्पेक्टर रैंक का होगा थाना, यह होगा संख्याबल

अफसरों ने बताया कि फिलहाल जो प्रस्तावित योजना के मुताबिक थाने का प्रभारी इंस्पेक्टर रैंक का अफसर होगा। जहां दो एसआई, नौ हेड कांस्टेबल, 15 कांस्टेबल, तीन कंप्यूटर ऑपरेटर, तीन फॉलोअर तैनात किए जाएंगे। 

 

  • फाफामऊ थाने की स्थापना के क्रम में राज्यपाल की मंजूरी संबंध पत्र डीजीपी मुख्यालय से प्राप्त हो गया है। जिसके बाद थाना स्थापित किए जाने के संबंध में कवायद शुरू कर दी गई है। – प्रेमप्रकाश, एडीजी प्रयागराज जोन



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *