March 4, 2021

चंडीगढ़ पुलिस के साढ़े सात हजार जवानों को लगेगा कोरोना का टीका, स्वास्थ्य मंत्रालय को भेजे जाएंगे नाम


अमित गुप्ता, अमर उजाला, चंडीगढ़
Updated Fri, 08 Jan 2021 02:19 AM IST

चंडीगढ़ पुलिस (फाइल फोटो)
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

कोरोना काल में योद्धा की तरह मैदान में डटे पुलिसकर्मियों का भी टीकाकरण किया जाएगा। चंडीगढ़ पुलिस के करीब साढ़े सात हजार पुलिसकर्मियों की सूची तैयार की जा रही है। कोविड के लिए नियुक्त नोडल ऑफिसर, पुलिस मुख्यालय व क्राइम ब्रांच के एसपी मनोज कुमार मीणा का कहना है कि पुलिसकर्मियों का डाटा तैयार किया गया है। अगले दो दिन में रिपोर्ट सौंप दी जाएगी।  

छह दिन पहले स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना काल के दौरान अग्रिम पंक्ति में डटे कर्मचारियों को सबसे पहले टीकाकरण का निर्णय लिया था। इसमें स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों के बाद पुलिसकर्मियों का टीकाकरण होना है। पूरे कोरोना काल के दौरान पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई जा रही थी। जिसमें चंडीगढ़ पुलिस, होमगार्ड जवान समेत बुड़ैल जेल के पुलिसकर्मी शामिल थे। 

स्वास्थ्य मंत्रालय ने इन सभी का विवरण मांगा था। चंडीगढ़ पुलिस की तरफ से कोविड के लिए पुलिस मुख्यालय व एसपी क्राइम ब्रांच मनोज कुमार मीणा, होमगार्ड जवान की तरफ से एसपी सिटी विनीत कुमार और बुड़ैल जेल की ओर से एआईजी विराट को नोडल ऑफिसर नियुक्त किया है। इनकी देखरेख में सूची बनाई जा रही है। अगले दो दिन में इसे अंतिम रूप दे दिया जाएगा। 

24 मार्च को शहर में कर्फ्यू के दौरान पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई थी। इसमें एसपी सिटी विनीत कुमार, डीएसपी दिलशेर सिंह चंदेल, इंस्पेक्टर दिलबाग सिंह समेत कुल 208 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित हो गए थे।। अब तक 196 पुलिसकर्मी इस बीमारी से उबर चुके हैं। जबकि 12 पुलिसकर्मी उपचाराधीन हैं। 

पुलिस मुख्यालय से लेकर थाना तक सील 
कोरोना के इस प्रकोप से शहर के थाने, पुलिस चौकी, अपराध शाखा, सेक्टर-26 पुलिस लाइन, पुलिस बीट बॉक्स समेत अन्य विंग भी सुरक्षित नहीं थे। इस वजह से मलोया थाना, सेक्टर-61 पुलिस चौकी, पंजाब विश्वविद्यालय पुलिस बीट बॉक्स व सेक्टर-26 पुलिस लाइन, सेक्टर-9 पुलिस मुख्यालय को सील कर दिया गया। बावजूद इसके पुलिसकर्मी आए दिन कोरोना संक्रमित होते रहे। 

कहीं लंगर तो कहीं बांटे गए पिज्जा
पुलिस विभाग ने शहर के अलग-अलग एनजीओ के साथ मिलकर लंगर भी लगाए। वहीं यूटी एसएसपी ने सेक्टर-25 कॉलोनी, धनास कॉलोनी समेत अलग अलग जगहों पर बच्चों को पिज्जा भी बांटा था।

कोरोना काल में योद्धा की तरह मैदान में डटे पुलिसकर्मियों का भी टीकाकरण किया जाएगा। चंडीगढ़ पुलिस के करीब साढ़े सात हजार पुलिसकर्मियों की सूची तैयार की जा रही है। कोविड के लिए नियुक्त नोडल ऑफिसर, पुलिस मुख्यालय व क्राइम ब्रांच के एसपी मनोज कुमार मीणा का कहना है कि पुलिसकर्मियों का डाटा तैयार किया गया है। अगले दो दिन में रिपोर्ट सौंप दी जाएगी।  

छह दिन पहले स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना काल के दौरान अग्रिम पंक्ति में डटे कर्मचारियों को सबसे पहले टीकाकरण का निर्णय लिया था। इसमें स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों के बाद पुलिसकर्मियों का टीकाकरण होना है। पूरे कोरोना काल के दौरान पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई जा रही थी। जिसमें चंडीगढ़ पुलिस, होमगार्ड जवान समेत बुड़ैल जेल के पुलिसकर्मी शामिल थे। 

स्वास्थ्य मंत्रालय ने इन सभी का विवरण मांगा था। चंडीगढ़ पुलिस की तरफ से कोविड के लिए पुलिस मुख्यालय व एसपी क्राइम ब्रांच मनोज कुमार मीणा, होमगार्ड जवान की तरफ से एसपी सिटी विनीत कुमार और बुड़ैल जेल की ओर से एआईजी विराट को नोडल ऑफिसर नियुक्त किया है। इनकी देखरेख में सूची बनाई जा रही है। अगले दो दिन में इसे अंतिम रूप दे दिया जाएगा। 


आगे पढ़ें

एसपी सिटी समेत 208 पुलिसकर्मी हुए थे संक्रमित 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *