February 27, 2021

भाजपा विधायक के बेटे की शिकायत पर हास्य कलाकार गिरफ्तार, जानिए क्या है मामला


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

भारतीय जनता पार्टी के एक विधायक के बेटे की शिकायत पर एक हास्य कलाकार और चार अन्य लोगों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज करके उन्हें गिरफ्तार किया है। 
विधायक के बेटे का आरोप है कि शहर में आयोजित एक हास्य कार्यक्रम (कॉमेडी शो) में हिंदू देवी-देवताओं और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर अभद्र टिप्पणियां की गईं। 

अधिकारियों ने बताया कि शहर के 56 दुकान क्षेत्र के एक कैफे में शुक्रवार को आयोजित कॉमेडी शो में भाजपा की स्थानीय विधायक मालिनी लक्ष्मणसिंह गौड़ के बेटे एकलव्य सिंह गौड़ अपने साथियों के साथ बतौर दर्शक पहुंचे थे। 36 वर्षीय एकलव्य ने शो में की गईं कुछ टिप्पणियों के विरोध में जमकर हंगामा किया और कार्यक्रम रुकवा दिया। 
मुनव्वर फारुकी समेत पांच गिरफ्तार 
तुकोगंज पुलिस थाने के प्रभारी कमलेश शर्मा ने शनिवार को बताया कि वीडियो फुटेज के साथ एकलव्य की लिखित शिकायत पर गुजरात के जूनागढ़ के रहने वाले हास्य कलाकार मुनव्वर फारुकी और चार स्थानीय लोगों के खिलाफ शुक्रवार देर रात मामला दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

आरोप, हिंदू देवी-देवताओं का उड़ाया मजाक 
एकलव्य ने संवाददाताओं से कहा, ”मैं और मेरे कुछ साथी बाकायदा टिकट खरीदकर कॉमेडी शो में पहुंचे, जहां फारुकी को बतौर मुख्य कॉमेडियन बुलाया गया था। इस शो में अभद्र टिप्पणियां करते हुए हिंदू देवी-देवताओं का मजाक बनाया जा रहा था। कार्यक्रम में गोधरा कांड और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का अनुचित जिक्र भी किया गया था।”  उन्होंने कहा कि कॉमेडी शो में इस तरह की तमाम आपत्तिजनक बातें चल रही थीं। हमने इनका वीडियो बनाया और शो रुकवाकर श्रोताओं को कैफे से बाहर निकाला। फिर हम शो के कॉमेडियनों और आयोजकों को पकड़कर तुकोगंज पुलिस थाने ले गए।

सोशल डिस्टेंसिंग का नहीं हो रहा था पालन 
 भाजपा विधायक के 36 वर्षीय बेटे ने यह आरोप भी लगाया कि कोरोना वायरस संक्रमण के वक्त प्रशासन की अनुमति के बिना आयोजित इस कार्यक्रम में सामाजिक दूरी बनाने की हिदायत का बिल्कुल भी पालन नहीं किया जा रहा था। आयोजकों ने कैफे के छोटे-से हॉल में कम से कम 100 दर्शक बैठा रखे थे।

एकलव्य ‘हिंद रक्षक’ नामक स्थानीय संगठन के संयोजक हैं। मीडिया की कुछ खबरों में कहा गया है कि कैफे में हंगामे के दौरान संगठन के कार्यकर्ताओं ने हास्य कलाकार की पिटाई भी की, लेकिन एकलव्य ने इस आरोप से इनकार किया है।

पुलिस के मुताबिक, मामले के चार अन्य गिरफ्तार आरोपियों में एडविन एंथोनी, प्रखर व्यास, प्रियम व्यास और नलिन यादव शामिल हैं जो स्थानीय निवासी हैं। यह मामला भारतीय दंड विधान की धारा 295-ए (किसी वर्ग की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के इरादे से जान-बूझकर किए गए विद्वेषपूर्ण कार्य), धारा 269 (ऐसा लापरवाही भरा काम करना जिससे किसी जानलेवा बीमारी का संक्रमण फैलने का खतरा हो) और अन्य सम्बद्ध प्रावधानों के तहत दर्ज किया गया है।

 

भारतीय जनता पार्टी के एक विधायक के बेटे की शिकायत पर एक हास्य कलाकार और चार अन्य लोगों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज करके उन्हें गिरफ्तार किया है। 

विधायक के बेटे का आरोप है कि शहर में आयोजित एक हास्य कार्यक्रम (कॉमेडी शो) में हिंदू देवी-देवताओं और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर अभद्र टिप्पणियां की गईं। 

अधिकारियों ने बताया कि शहर के 56 दुकान क्षेत्र के एक कैफे में शुक्रवार को आयोजित कॉमेडी शो में भाजपा की स्थानीय विधायक मालिनी लक्ष्मणसिंह गौड़ के बेटे एकलव्य सिंह गौड़ अपने साथियों के साथ बतौर दर्शक पहुंचे थे। 36 वर्षीय एकलव्य ने शो में की गईं कुछ टिप्पणियों के विरोध में जमकर हंगामा किया और कार्यक्रम रुकवा दिया। 

मुनव्वर फारुकी समेत पांच गिरफ्तार 

तुकोगंज पुलिस थाने के प्रभारी कमलेश शर्मा ने शनिवार को बताया कि वीडियो फुटेज के साथ एकलव्य की लिखित शिकायत पर गुजरात के जूनागढ़ के रहने वाले हास्य कलाकार मुनव्वर फारुकी और चार स्थानीय लोगों के खिलाफ शुक्रवार देर रात मामला दर्ज किया गया। उन्होंने बताया कि पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

आरोप, हिंदू देवी-देवताओं का उड़ाया मजाक 

एकलव्य ने संवाददाताओं से कहा, ”मैं और मेरे कुछ साथी बाकायदा टिकट खरीदकर कॉमेडी शो में पहुंचे, जहां फारुकी को बतौर मुख्य कॉमेडियन बुलाया गया था। इस शो में अभद्र टिप्पणियां करते हुए हिंदू देवी-देवताओं का मजाक बनाया जा रहा था। कार्यक्रम में गोधरा कांड और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का अनुचित जिक्र भी किया गया था।”  उन्होंने कहा कि कॉमेडी शो में इस तरह की तमाम आपत्तिजनक बातें चल रही थीं। हमने इनका वीडियो बनाया और शो रुकवाकर श्रोताओं को कैफे से बाहर निकाला। फिर हम शो के कॉमेडियनों और आयोजकों को पकड़कर तुकोगंज पुलिस थाने ले गए।

सोशल डिस्टेंसिंग का नहीं हो रहा था पालन 

 भाजपा विधायक के 36 वर्षीय बेटे ने यह आरोप भी लगाया कि कोरोना वायरस संक्रमण के वक्त प्रशासन की अनुमति के बिना आयोजित इस कार्यक्रम में सामाजिक दूरी बनाने की हिदायत का बिल्कुल भी पालन नहीं किया जा रहा था। आयोजकों ने कैफे के छोटे-से हॉल में कम से कम 100 दर्शक बैठा रखे थे।

एकलव्य ‘हिंद रक्षक’ नामक स्थानीय संगठन के संयोजक हैं। मीडिया की कुछ खबरों में कहा गया है कि कैफे में हंगामे के दौरान संगठन के कार्यकर्ताओं ने हास्य कलाकार की पिटाई भी की, लेकिन एकलव्य ने इस आरोप से इनकार किया है।

पुलिस के मुताबिक, मामले के चार अन्य गिरफ्तार आरोपियों में एडविन एंथोनी, प्रखर व्यास, प्रियम व्यास और नलिन यादव शामिल हैं जो स्थानीय निवासी हैं। यह मामला भारतीय दंड विधान की धारा 295-ए (किसी वर्ग की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के इरादे से जान-बूझकर किए गए विद्वेषपूर्ण कार्य), धारा 269 (ऐसा लापरवाही भरा काम करना जिससे किसी जानलेवा बीमारी का संक्रमण फैलने का खतरा हो) और अन्य सम्बद्ध प्रावधानों के तहत दर्ज किया गया है।

 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *