March 1, 2021

कोरोना टीकाकरण: दुल्हन की तरह सजे अस्पताल, दिल्ली के मैक्स हॉस्पिटल में दिखी त्योहार सी तैयारी


टीकाकरण के लिए सजा मैक्स अस्पताल
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

कोरोना टीका के लिए दिल्ली पूरी तरह से तैयार दिखी। पीएम मोदी के भाषण से शुरू हुई कोरोना टीकाकरण की मुहिम के तहत एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया समेत तमाम अस्पतालों में स्वास्थ्यकर्मियों समेत अन्य फ्रंटलाइन वर्करों को टीका लगाया गया। इस दौरान अस्पताल सजे-धजे नजर आए। दिल्ली में मैक्स अस्पताल की जो तस्वीरें सामने आई हैं वो दिखाती हैं कि कोरोना के टीकाकरण को लेकर कितना उत्साह रहा।

जिन-जिन अस्पतालों में टीकाकरण हो रहा है वो अस्पताल काफी सुसज्जित और व्यवस्थित नजर आए। कई अस्पतालों में पूजन के कार्यक्रम के साथ टीकाकरण शुरू हुआ। कई जगह इसे लेकर लड्डू आदि बांटे गए।

आज दिल्ली में सभी 81 केंद्रों पर टीकाकरण शुरू हो गया। लोकनायक अस्पताल में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन मौजूद रहे। इसी बीच सुबह 10.30 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लोकनायक सहित देश भर के उन स्वास्थ्य कर्मचारियों के साथ बातचीत की जिन्हें सबसे पहले कोरोना वायरस का टीका दिया जाना था।
 
दिल्ली में पहले दिन 8100 स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीका दिया जाना है। नगर निगम को छोड़ केंद्र और दिल्ली सरकार के अधीन स्वास्थ्य कर्मचारी टीकाकरण में शामिल हैं। नगर निगम के स्वास्थ्य कर्मचारियों ने पांच माह से वेतन न मिलने के कारण टीकाकरण में भाग नहीं लेने की घोषणा की है।

दिल्ली सरकार के मुताबिक 16 जनवरी से दिल्ली के विभिन्न इलाकों में 81 केंद्रों पर टीकाकरण शुरू हो गया है। कुछ समय बाद दिल्ली में टीका केंद्रों की संख्या को बढ़ाकर 175 तक कर दिया जाएगा। साथ ही अप्रैल माह के बाद दिल्ली में केंद्रों की संख्या बढ़कर एक हजार से अधिक हो जाएगी। 

दिल्ली स्वास्थ्य विभाग ने जानकारी दी है कि केंद्र सरकार से अभी तक 2 लाख 74 हजार टीका की डोज उपलब्ध कराई हैं। इसके अलावा केंद्र सरकार 10 प्रतिशत डोज अतिरिक्त दी है, ताकि टूट-फूट होने पर उपयोग में लाई जा सके।

लोकनायक अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सुरेश कुमार ने बताया कि उनके यहां तीन केंद्र बनाए हैं। हर दिन 300 स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीका दिया जाएगा। दिल्ली में सबसे ज्यादा स्वास्थ्य कर्मचारी लोकनायक अस्पताल में हैं जहां 4 से 5 हजार स्वास्थ्य कर्मचारी हैं।

उन्होंने बताया कि सप्ताह में चार दिन सोमवार, मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को ही टीका लगाया जाएगा। पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीका दिया जाएगा। इसके लिए 2 लाख 40 हजार स्वास्थ्यकर्मी अभी तक पंजीकरण करा चुके हैं।

75 दिल्ली सरकार, छह केंद्र के अस्पतालों में लग रहा टीका
दिल्ली में 81 केंद्रों पर टीका लगाया गया। इनमें छह केंद्र सरकार के अस्पताल एम्स, सफदरजंग, आरएमएल और कलावती सरन अस्पताल के अलावा दो ईएसआई अस्पताल शामिल हैं। जबकि बाकी 75 केंद्र दिल्ली सरकार के अधीन सरकारी अस्पताल और निजी अस्पताल हैं। केंद्र सरकार के सभी छह अस्पतालों को भारत बायोटेक की कोवैक्सीन स्वास्थ्य कर्मचारियों को दी जा रही है। जबकि अन्य सभी 75 केंद्रों पर स्वास्थ्य कर्मचारियों को पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा तैयार कोविशील्ड टीके की डोज दी गई।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने किया एलएनजेपी का दौरा
टीकाकरण कार्यक्रम शुरू होने के बाद शनिवार दोपहर 12  बजे के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल एलएनजेपी अस्पताल पहुंचे और टीकाकरण कार्यक्रम का मुआयना किया। स्वास्थ्य कर्मियों के साथ ही केजरीवाल ने उन लोगों से भी चर्चा की, जिन्होंने टीका लगवाया है।

कोरोना टीका के लिए दिल्ली पूरी तरह से तैयार दिखी। पीएम मोदी के भाषण से शुरू हुई कोरोना टीकाकरण की मुहिम के तहत एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया समेत तमाम अस्पतालों में स्वास्थ्यकर्मियों समेत अन्य फ्रंटलाइन वर्करों को टीका लगाया गया। इस दौरान अस्पताल सजे-धजे नजर आए। दिल्ली में मैक्स अस्पताल की जो तस्वीरें सामने आई हैं वो दिखाती हैं कि कोरोना के टीकाकरण को लेकर कितना उत्साह रहा।

जिन-जिन अस्पतालों में टीकाकरण हो रहा है वो अस्पताल काफी सुसज्जित और व्यवस्थित नजर आए। कई अस्पतालों में पूजन के कार्यक्रम के साथ टीकाकरण शुरू हुआ। कई जगह इसे लेकर लड्डू आदि बांटे गए।

आज दिल्ली में सभी 81 केंद्रों पर टीकाकरण शुरू हो गया। लोकनायक अस्पताल में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन मौजूद रहे। इसी बीच सुबह 10.30 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लोकनायक सहित देश भर के उन स्वास्थ्य कर्मचारियों के साथ बातचीत की जिन्हें सबसे पहले कोरोना वायरस का टीका दिया जाना था।

 

दिल्ली में पहले दिन 8100 स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीका दिया जाना है। नगर निगम को छोड़ केंद्र और दिल्ली सरकार के अधीन स्वास्थ्य कर्मचारी टीकाकरण में शामिल हैं। नगर निगम के स्वास्थ्य कर्मचारियों ने पांच माह से वेतन न मिलने के कारण टीकाकरण में भाग नहीं लेने की घोषणा की है।

दिल्ली सरकार के मुताबिक 16 जनवरी से दिल्ली के विभिन्न इलाकों में 81 केंद्रों पर टीकाकरण शुरू हो गया है। कुछ समय बाद दिल्ली में टीका केंद्रों की संख्या को बढ़ाकर 175 तक कर दिया जाएगा। साथ ही अप्रैल माह के बाद दिल्ली में केंद्रों की संख्या बढ़कर एक हजार से अधिक हो जाएगी। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *