March 5, 2021

बिहार में शराबबंदी के नाम पर हो रहा है अवैध शराब का कारोबार: सुशील कुमार सिंह


भाजपा सांसद सुशील सिंह
– फोटो : twitter

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

बिहार में शराबबंदी कानून पूरी तरह से विफल है और शराब का अवैध धंधा संगठित कारोबार बन गया है। ये आरोप पहले विपक्ष लगाता था, लेकिन अब यही आरोप औरंगाबाद से भाजपा के सांसद सुशील सिंह ने लगाया है। उन्होंने कहा कि पूरे बिहार में पुलिस अवैध शराब का कारोबार करवा रही है।

औरंगाबाद से भाजपा सांसद सुशील सिंह ने लगाया आरोप 
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दावों को हाल ही में उनकी सहयोगी भाजपा ने कई बार खारिज किया है। कुछ दिनों पहले ही कानून व्यवस्था के मसले पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने अपनी सरकार को कठघरे में खड़ा किया था। अब भाजपा के सांसद सुशील सिंह ने शराबबंदी कानून पर सरकार को कठघरे में खड़ा किया है। सिंह ने कहा कि राज्य में शराबबंदी के नाम पर भ्रष्टाचार का बड़ा खेल हो रहा है।

सांसद ने बीते शनिवार की शाम इसके खिलाफ औरंगाबाद में धरना भी दिया। उन्होंने कहा कि राज्य में शराबबंदी के बावजूद पुलिस के संरक्षण में खुलेआम शराब की बिक्री हो रही है। इस बयान के बाद सांसद के आरोपों पर सरकार के बचाव में भाजपा के ही वरिष्ठ नेता और पूर्व सहकारिता मंत्री रामाधार सिंह उतर आए हैं।

उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए सांसद सुशील कुमार सिंह पर ही आरोपों की बौछार कर दी। इधर, कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता असित नाथ तिवारी ने कहा है कि सुशील कुमार सिंह ने देर से सही सच को स्वीकार किया है। नीतीश जी को भी सच्चाई मालूम है। वो सिर्फ भ्रष्टाचारियों को बचाने के लिए राज्य की जनता को गुमराह कर रहे हैं।

बिहार में शराबबंदी कानून पूरी तरह से विफल है और शराब का अवैध धंधा संगठित कारोबार बन गया है। ये आरोप पहले विपक्ष लगाता था, लेकिन अब यही आरोप औरंगाबाद से भाजपा के सांसद सुशील सिंह ने लगाया है। उन्होंने कहा कि पूरे बिहार में पुलिस अवैध शराब का कारोबार करवा रही है।

औरंगाबाद से भाजपा सांसद सुशील सिंह ने लगाया आरोप 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दावों को हाल ही में उनकी सहयोगी भाजपा ने कई बार खारिज किया है। कुछ दिनों पहले ही कानून व्यवस्था के मसले पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने अपनी सरकार को कठघरे में खड़ा किया था। अब भाजपा के सांसद सुशील सिंह ने शराबबंदी कानून पर सरकार को कठघरे में खड़ा किया है। सिंह ने कहा कि राज्य में शराबबंदी के नाम पर भ्रष्टाचार का बड़ा खेल हो रहा है।

सांसद ने बीते शनिवार की शाम इसके खिलाफ औरंगाबाद में धरना भी दिया। उन्होंने कहा कि राज्य में शराबबंदी के बावजूद पुलिस के संरक्षण में खुलेआम शराब की बिक्री हो रही है। इस बयान के बाद सांसद के आरोपों पर सरकार के बचाव में भाजपा के ही वरिष्ठ नेता और पूर्व सहकारिता मंत्री रामाधार सिंह उतर आए हैं।

उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए सांसद सुशील कुमार सिंह पर ही आरोपों की बौछार कर दी। इधर, कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता असित नाथ तिवारी ने कहा है कि सुशील कुमार सिंह ने देर से सही सच को स्वीकार किया है। नीतीश जी को भी सच्चाई मालूम है। वो सिर्फ भ्रष्टाचारियों को बचाने के लिए राज्य की जनता को गुमराह कर रहे हैं।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed